Forgot password?    Sign UP
‘एंथनी अल्बनीस’ बने ऑस्ट्रेलिया के नए प्रधानमंत्री

‘एंथनी अल्बनीस’ बने ऑस्ट्रेलिया के नए प्रधानमंत्री



2022-05-23 : हाल ही में, ऑस्ट्रेलिया की लेबर पार्टी के नेता एंथोनी अल्बनीस (Anthony Albanese) ऑस्ट्रेलिया के 31वें प्रधानमंत्री बने हैं। आपको बता दे की एंथनी ने अपने राजनीतिक सफर की शुरुआत महज 12 साल की उम्र में ही कर ली थी। तब स्थानीय परिषद ने सरकारी घरों का किराया बढ़ा दिया था। एंथनी अल्बनीस 26 साल से फेडरल पार्लियामेंट में हैं। वह दो बार भारत का दौरा भी कर चुके हैं। पहली बार वह 1991 में भारत आए थे। उस वक्त वह छात्र राजनीति में सक्रिय थे। इसके बाद वह 2018 में दूसरी बार भारत आए थे।

Anthony Albanese Story :



यहाँ हम आपको नए प्रधानमंत्री एंथोनी के परिवार को लेकर एक कहानी बता रहे है, जो किसी फ़िल्म से कम नही है। वैसे आपको बता दे की इनका जन्म 02 मार्च 1963 को ऑस्ट्रेलिया के सिडनी के निकट कैंपरडाउन में रूढ़ीवादी कैथोलिक ईसाई परिवार (anthony albanese family) में हुआ। इनके पैदा होने के बाद उन्होंने सिर्फ मां को अपने पास पाया। पिता के बारे में पूछने पर उन्हें आयरिश-ऑस्ट्रेलियाई मूल की मां ने बताया कि उनके इटली मूल के पिता "कार्लो अल्बनीज" की शादी के कुछ समय बाद ही एक कार दुर्घटना में मौत हो गई थी।

इसको एंथोनी जब 14 वर्ष के थे तब तक वो सच भी मानते रहे। वैसे इनकी माँ को विकलांगता की पेंशन मिलती थी लेकिन एंथनी जब 14 साल के हुए तो उनकी मां को पेंशन के लिए अमान्य घोषित कर दिया गया। बदहाल आर्थिक हालत के बीच उन्होंने एंथनी को बताया कि उनके पिता की मौत नहीं हुई, बल्कि वे जिंदा है। उनकी मां की पिता के साथ कभी शादी ही नहीं हुई। एंथनी पर नाजायज होने का ठप्पा न लगे इसलिए उनसे ये बात छुपाई गई।

इनकी मां ने एंथनी को बताया कि उनके पिता "कार्लो अल्ब्नीज" क्रूज शिप के मैनेजर थे। और दोनों की मुलाकात वर्ष 1962 में विदेशी यात्रा के दौरान हुई। सात महीने तक एशिया और ब्रिटेन की यात्रा के बाद उनकी मां वापस सिडनी आ गईं। इस दौरान वे 4 महीने की गर्भवती हो चुकी थीं। ये सब सुनकर मां की भावनाओं का ख्याल रखते हुए अल्बनीज ने मां के जिंदा रहते कभी पिता को नहीं खोजा। फिर वर्ष 2002 में मां की मौत के बाद उनकी पिता से मुलाकात हुई।

Provide Comments :